The Cover Logo

दलित लेखक संघ की अध्यक्ष चुनी गईं डॉ. राजकुमारी

News Editor Monday 12th of July 2021 at 02:56:24 PM India
दलित लेखक संघ की अध्यक्ष चुनी गईं डॉ. राजकुमारी

विगत 10 जुलाई 2021 को दिल्ली के मंगोलपुरी में दलित लेखक संघ की दसवीं कार्यकारिणी का चुनाव हुआ जिसकी अध्यक्षता वरिष्ठ लेखक मामचंद रिवाड़िया जी ने की और इस लोकतांत्रिक तरीके निर्वाचित कार्यकारिणी में डॉ. राजकुमारी जी को अध्यक्ष के पद पर चुना गया।

महानगर दिल्ली में जन्मी डॉ. राजकुमारी जी ने स्नातक से लेकर पीएच.डी. तक की उपाधियाँ दिल्ली विश्वविद्यालय से ही प्राप्त की हैं। डॉ. राजकुमारी जी हमेशा से संघर्षशील, कर्मठ,  अपने कार्य के प्रति समर्पित रहीं हैं। प्रत्येक क्षेत्र में, वे सदैव अपने दायित्वों को भलीभांति पूर्ण करती हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय में अध्यापन से लेकर लेखन के क्षेत्र में उनकी लेखनी सतत चलती रहती है। समकालीन मुद्दों को विभिन्न समाचार-पत्रों और पत्रिकाओं में उठाते हुए स्त्री पीड़ा और दलित विमर्श उनकी लेखनी में विशेष स्थान पाता है। हिंदी में पांच पुस्तकों सहित उनकी अनेक कहानियाँ, कविताएँ और शोध-पत्र विभिन्न पत्रिकाओं में प्रकाशित हैं। साहित्य की प्रतिष्ठित पत्रिका "हंस", साहित्य अकादमी की "समकालीन भारतीय साहित्य" जैसी उच्च-स्तरीय पत्रिकाओं में उनकी कहानियाँ प्रकाशित हैं जो भारत के विभिन्न समीक्षकों के द्वारा समीक्षित की गई हैं। जनसत्ता जैसे प्रमुख राष्ट्रीय अख़बार के कॉलम "दुनिया मेरे आगे" में लेखन करती रही है। लखनऊ, इंदौर, राजस्थान, छत्तीसगढ़, बिहार, पश्चिमी बंगाल आदि प्रदेशीय अखबारों में लगातार लेख प्रकाशित होते हैं। फेमनिज्म इन इंडिया, ब्लॉग, ग्रामीण समाचार आदि ई पत्र- पत्रिकाओं में स्त्री मुद्दों को उठाती हैं। डॉ. राजकुमारी एक बेहतरीन कवियत्री, समीक्षक और कहानीकार हैं।

डॉ. राजकुमारी जी 2019 में आगरा से "बहुजन स्त्री सम्मान" से, वर्ष 2020 में साहित्य चेतना मंच द्वारा "ओमप्रकाश वाल्मीकि" साहित्यिक सम्मान से, वर्ष 2021 में डॉ. अंबेडकर उत्थान परिषद, जयपुर द्वारा "नारी गौरव सम्मान" से, 2021 में "शान्ति स्वरूप बौद्ध प्रथम "काव्यांजलि सम्मान" से, सम्यक संस्कृति संघ, अलीगढ़ द्वारा "बिरसा मुंडा संत कबीर सम्मानसे विभूषित हुई हैं। कई किताबों की भूमिकाएं भी लिख चुकी है।
ये बड़े हर्ष का विषय है कि एक सुयोग्य अध्यक्ष को चुनकर, 1997 में स्थापित किया गया दलेस भी अनवरत आगे बढ़ेगा और सामाजिक प्रतिबद्धता में अपनी सकारात्मक भूमिका को और अधिक संजीदगी से रखेगा। दसवीं कार्यकारिणी के संरक्षक के तौर पर हीरालाल राजस्थानी को पुनः चुना गया। उपाध्यक्ष पद पर चन्द्रकान्ता सिवाल ' चन्द्रेश ' एवं हरपाल सिंह भारती को निर्वाचित किया गया। महासचिव पद पर रवि निर्मला सिंह को चुना गया। सचिव पद पर बलविंदर सिंह 'बलि', जावेद आलम खान, कुसुम सबलानिया एवं सरिता संधू को चुना गया। कोषाध्यक्ष पद पर डॉ. अमित धर्मसिंह को सर्वसम्मति से चुना गया। सलाहकार मण्डल में मामचंद रिवाड़िया, चित्रपाल और श्रीलाल बौद्ध जी को सर्वसम्मति से रखा गया। दलेस सदस्य के तौर पर डॉ. टेकचंद, सत्यनारायण, डॉ. दीपा, डॉ. गीता, सुनीता राजस्थानी, हंसराज बड़सीवाल, गुलफ्शा सिद्दकी, अशोक कुमार और ममता जयंत को चुना गया।

Top